takniq.com
अब अस्पताल से बाहर हृदयाघात से बचा जा सकेगा, डेनिश स्टार्टप ने तैयार किया सोफ्टवेर | Takniq
डेनमार्क की एक स्टार्टप ने एक कलनिधि का विकास किया है। यह कलनिधि कृत्रिम बुद्धिमता की मदद से फोन पर हृदयाघात (आँग्ल: कार्डियाक अरेस्ट) का अनुमान लगा लेती है। इस स्टार्टप का नाम कोर्टी है जो इस गर्मी में अपनी सोफ्टवेर का परीक्षण शुरु कर रही है। कोर्टी ने वर्ज को कहा है कि उसकी कलनिधियाँ अस्पताल से बाहर हृदयाघात को जल्दी पहचानने में सक्षम है और यह मनुष्यों से बेहतर काम कर पायेगी। इस सोफ्टवेर को डेनिश शहर कोपनहेगन में डिप्लोई कर दिया गया है। यह सोफ्टवेर धीरे-धीरे यूरोप की दूसरी शहरों में पहुँचने जा रही है। कोर्टी की सोफ्टवेर आपात स्थिति में फोन पर आपकी बातें सुनती है और इस दौरान कई कथ्य-अकथ्य पहलुओं पर गौर करती है। यह सोफ्टवेर मरीजों के लिये बतौर व्यक्तिगत सहायक काम करती है। ध्यान दीजिये कि हार्ट अटैक (दिल का दौरा) और हृदयाघात (कार्डियाक अरेस्ट) अलग-अलग चीज हैं। कार्डियाक अरेस्ट एक विद्युतीय खामी है जिसकी वजह से हृदयगति या धड़कन रूक जाती है जबकि हार्ट अटैक तब होती है जब शरीर में रक्त प्रवाह सीमित हो जाती है। इस तरह की प्रौद्योगिकी से बेहतर आरोग्य की उम्मीद बढ़ जाती है जब कृत्रिम बुद्धिमता की अपरिहार्यता दिन-ओ-दिन बढ़ती जा रही है। कोर्टी की सोफ्टवेर यही साबित कर जाती है कि प्रौद्योगिकी से लोगों को अस्पताल से दूर रखना संभव हो सकता है! और इसकी वजह से कुछ जानें भी बच जायेंगी। छवि स्त्रोत: Pexels Related Stories