pravakta.com
 यह लड़ाई है अच्छाई और बुराई की - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
डॉ नीलम महेंद्र उच्चतम न्यायालय ने 9 जुलाई 2018 के अपने ताजा फैसले में 16 दिसंबर 2012 के निर्भया कांड के दोषियों की फाँसी की सजा को बरकरार रखते हुए