pravakta.com
सूचकांक से कहीं ज्यादा बड़ी है ‘भुखमरी’ - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
सचिन कुमार जैन सतत विकास लक्ष्य के कई एजेंडो में लक्ष्य 2 का एजेंडा जब तय किया गया तो विश्व के सभी लीडर इस बात पर एकमत थें कि वर्ष 2030 तक दुनिया