pravakta.com
मंदिर व भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था : एक चिंतन - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
भारतीय संस्कृति में पूजा-पाठ, कर्मकांड का चलन हमेशा से ही शीर्ष स्तर पर रहा हैं। पूजन की परम्परा युगों-युगों से चली आ रही हैं। जिसमें पूजन स्थल व मंदिरों का निमार्ण राजा-महाराजाओं के लिए सम्मान की बात होती थी।