pravakta.com
व्यंग्य/ तालियां! तलियां!! तलियां!!! - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
पहाड़ पर एक गांव था। गांव में सबकुछ था। पर पानी न था। कई बार चुनाव आए। वहां के लोगों से भरे पूरे मुंह मंत्रियों ने वोट के बदले पानी पहुंचाने के वादे किए