pravakta.com
“सत्यार्थप्रकाश पठित मनुष्य कल्पित ईश्वर की उपासना नहीं करता” - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
-मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून। संसार में जितने भी आस्तिक मत हैं उनमें ईश्वर का स्वरूप भिन्न-भिन्न पाया जाता है जो कि तर्क एवं युक्तिसंगत नहीं है। इन सभी