pravakta.com
छोटी सोच के बड़े मसीहा । - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
“कोस कोस पर पानी बदले , चार कोस पर वाणी” । इस पंक्ति का प्रयोग हम अक्सर भारत की विभन्नताओं को दर्शाने के लिए करते हैं और पूरी दुनिया को ये दिखाने का