pravakta.com
चश्मा - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
देवेश शास्त्री .......... उन्हें नीति-नेम, धर्म-कर्म से कोई मतलब नहीं था। उसकी स्वाभाविक वृत्ति राजनैतिक रूप से ऐन-केन प्रकारेण अपना उल्लू सीधा करने यानी