pravakta.com
राष्ट्रीय—एकता एक चिंतन - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
शिवदेव आर्य, किसी भी राष्ट्र के लिये राष्ट्रीय एक ता का होना अत्यन्त आवश्यक है। राष्ट्रीय एकता राष्ट्र को सशक्त व संगठित बनाये रखने की अनन्य साधिका है।