pravakta.com
॥न सा सभा यत्र न सन्ति वृद्धाः॥ भा. (२) - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
डॉ. मधुसूदन वृद्ध जनों का योगदान: भा. (२) भाग (१) से आगे-- सारांश: *आदर्श परिवार का हरेक सदस्य अपनी न्य़ूनतम आवश्यकता के अनुपात में ले, और अपनी सर्वाधिक