pravakta.com
मुफ्त बाँटने की होड क्यों एवं कब तक? - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
- ललित गर्ग - भारतीय राजनीति में खैरात बांटने एवं मुक्त की सुविधाओं की घोषणाएं करके मतदाताओं को ठगने एवं लुभाने की कुचेष्टाओं का प्रचलन बढ़ता ही जा रहा