pravakta.com
मनुष्य का जीवन व चरित्र उज्जवल होना चाहिये - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
मनमोहन कुमार आर्य मनुष्य का जीवन व चरित्र उज्जवल होना चाहिये परन्तु आज ऐसा देखने को नहीं मिल रहा है। जो जितना बड़ा होता है वह अधिक संदिग्ध चरित्र व जीवन