pravakta.com
मंगोलिया के सांस्कृतिक पुनर्जागरण में कुशोक बकुला रिम्पोछे का योगदान - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
डा० कुलदीप चन्द अग्निहोत्री यह कथा अढाई हज़ार साल से भी पुरानी है । यह महात्मा बुद्ध के काल की कथा है । बकुला का मूल नाम क्या था , इसके बारे में बता पाना