pravakta.com
मेजर तुझे सलाम - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
संजय चाणक्य ‘‘ यादे अब यादे हो चली है ! जमाना तुम्हे भुलता जा रहा है!!’’ जब चैदह के उम्र में लोग अक्सर बचकाना हरकत करते है।