pravakta.com
खौफ में कौम, मौज में हामिद! - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
हेमेन्द्र क्षीरसागर बहुसंख्यकों के बीच में अल्पसंख्यकों का वतन की सर्वोच्च आसंदी पर आसिन हो जाना हिन्दुस्तान की सर जमीं के अलावा कहीं दीगर मयस्सर नहीं है।