pravakta.com
गीता का कर्मयोग और आज का विश्व, भाग-69 - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
राकेश कुमार आर्य   गीता का बारहवां अध्याय और विश्व समाज यहां पर गीता के 12वें अध्याय के जिस श्लोक का अर्थ हमने ऊपर दिया है-उसमें 'सर्वारम्भ