pravakta.com
जीवन की उलझी राहों में ......... - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
ख़ुद से दूर रहना चाहता हूँ , अपने हीं अक्स से घबराता हूँ , प्यार किसी से करता हूँ , क्या प्यार उसी से करता हूँ ?