pravakta.com
बेगानों के जश्न में,दीवाना मस्ताना है कोई - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
बेगानों के जश्न में,दीवाना मस्ताना है कोई मुल्क से बढकर,किसी का दोस्त है वहाँ कोई शहीदों के कातिलो को, बेगुनाह समझते हो तुम उनके मुल्क में जाकर,उनको गले