pravakta.com
नारी के सशक्तिकरण से ही पुरुष का सशक्तिकरण संभव है ’ - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
स्ंासार की आधी आबादी महिलाओं की है। अतः विश्व की सुख-शांति और समृद्धि में उनकी भूमिका भी विशेष रुप से रेखांकनीय हैं। भारतीय-चिन्तन-परम्परा में यह तथ्य