pravakta.com
धार्मिक संपत्तियों के यह लुटेरे… - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
तनवीर जाफ़री हमारे देश में ‘पर उपदेश कुशल बहुतेरे’ जैसी प्राचीन कहावत का अस्तित्व में आना तथा आज भी इसका प्रचलित व लोकप्रिय होना अपने-आप में इस बात का