pravakta.com
बाल कहानी/ अच्छा-सा तोहफा - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
चानपा बड़ी देर से चट्टान की ओट में खड़ा बारिश रुकने का इंतजार कर रहा था। अभी एक घंटा पहले आसमान बिल्कुल साफ था। चानपा को उम्मीद थी कि वह अंधेरा होते-होते