pravakta.com
आंखों से बोलते थे अटल जी - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
प्रवीण गुगनानी प्रसिद्ध दार्शनिक सुकरात ने कहा था कि “जिस देश का राजा कवि होगा उस देश में कोई दुखी न होगा” – अटल जी के प्रधानमंत्रित्व काल में यह बात