pravakta.com
आचार्य महाप्रज्ञ तुम्हारे अहिंसा बल को प्रणाम! - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
- ललित गर्ग- भारतभूमि अनादिकाल से अहिंसा एवं योग की प्रयोगभूमि रही है। अहिंसा एवं योग-साधना की यह गंगा बीसवीं सदी के उत्तरार्द्ध में जिस श्लाकापुरुष में