pravakta.com
वजूद में शामिल है पंजाबियत - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
अनिल अनूप अपने अस्तित्व के 47 सालों बाद भी हिमाचल अपने वजूद से पंजाबियत को अलग नहीं कर पाया है। माना कि पहले हिमाचल पंजाब का ही हिस्सा था, पर आज यह अलग