pravakta.com
पूंजीवाद मृत्यशय्या पर जा चुका है - Pravakta.Com | प्रवक्‍ता.कॉम
इक़बाल हिंदुस्तानी पूंजीवाद मृत्यशय्या पर जा चुका है, अब बचना मुश्किल है! कारपोरेट सैक्टर की लूट अब भारत में भी और नहीं चलेगी! 1930 से अब तक सात बार