whitecanvasblackmargins.com
~ लबों पर तिरे…
~ लबों पर तिरे… करीबी बढ़ा तो सराने लगा दूँ गयी बात उसको ठकाने लगा दूँ… मिले जो नज़र तो नज़र को चुराना, हुनर ये अगर है, चलो आज़मा दूँ… तराने मिरे लोग गाने लगे हैं, मिलो जो कभी आपक…