wellburrowed.com
भगत सिंह का दर्शन
तुम नास्तिक थे क्योंकि तुम्हें विश्वास नहीं था किसी सत्ता पर और उस पर तो बिलकुल ही नहीं जो महज़ विश्वास है सत्ता के परम होने का भक्ति तुम्हारी शक्ति नहीं थी न तुम आसक्त थे राष्ट्र पर न किसी व्यक्ति …