vikrantrajliwal.com
जब हमें जरूरत थी उनकी तो हम उनके किसी भी काम के ना थे। जब पड़ी जरूरत उन्हें हमारी तो वो हमारे किसी काम के ना रहे।। विक्रांत राजलीवाल द्वारा लिखित। When we needed him we were not of any of his work. …