sunnymca.wordpress.com
जब न आराम मिला न रोज़
वही सुबह, वही अलसाई शुरुआत, वही थे बच्चे आज भी, और वही सब शिक्षकलोग, दिन पूरा वैसा ही जीया, जैसे जीते है हर रोज.. वही कक्षाओं के बीच की दौड़, वही लेसन, लेक्चर हर ओर, कुछ अलग तो था पर वही तो था, जैसा…