sunnymca.wordpress.com
दहेज का इतिहास
उत्तर वैदिक काल में विवाह के समय पिता अपनी पुत्री को अपनी इच्छा अनुसार उपहार दिया करते थे जो पहले से निश्चित नहीं हुआ करता था, मध्यकाल में इस उपहार ने अपना स्वरूप बदला और फिर यह स्त्रीधन के रुप में…