sunnymca.wordpress.com
प्यार न करो
प्यार जगा कर कहती हो क्यूं, कि प्यार न करो, आँखों को ख्वाब दिखाकर कहती हो क्यूं, कि ऐतबार न करो, मेरे दिल में बसती हो तुम, तुम्हारी हसरतें सजाता हूँ, तुमको है खबर सबकुछ फिर भी, कहती हो क्यूं कि प्य…