sunnymca.wordpress.com
पथिक धर्म
मेरे मित्र ॐ ने आज फेसबुक पे अपनी ये 2 साल पुरानी पोस्ट शेयर की थी अब तक सफर अच्छा रहा, इस मोड़ से अब जाए कहाँ, रास्ते में जो भी हो, हम ढूंढेंगे अपना जहाँ। छोटी-छोटी खुशियों के लिए क्यों तरसे लम्हें…