sunnymca.wordpress.com
लाश की राजनीती या राजनीती के कारण लाश?
वैसे तो दुनिया में हर रोज हजारों सुसाइड हो रहे, कोई खुद को बम से उड़ा रहा, कोई फंदे से झूल रहा..कुछ को अवसाद ले डूबती है कुछ को हूरों की लालसा पर रोहित की आत्महत्या को जो सुर्खियां मिल रही, खुद को प…