sunnymca.wordpress.com
मेरा ख्वाब मेरे साथ में है
सब भूल गया हूँ तुम्हारी इन आँखों में, अब तुम ही रहती हो मेरी आँखों में, न मालुम कौन, कहाँ, किस हाल में है, मुझे मालुम, मेरा ख्वाब मेरे साथ में है.. -सन्नी कुमार…