sunnymca.wordpress.com
सिवा उनके कुछ और चाहा नहीं..
उनके ख्वाबों में हम, कभी थे ही नहीं. पर ये दिल था “गुरु” कभी माना नहीं.. उनकी नज़रों में हम, नजर आये नहीं. और एक ये दिल सनम सिवा उनके कुछ और चाहा नहीं.. -सन्नी कुमार [एक निवेदन- आपको हमा…