sunnymca.wordpress.com
Ishq ka jaal..
इश्क का जाल, कुछ ऐसा है जनाब, अक्सर हम जिनपे ऐतबार करते है, जिनकी तलाश में सुबह को शाम करते है, उनका भी आलम कुछ ऐसा ही होता है, बस अफ़सोस की उनका ये हाल किसी और के लिए होता है, इश्क में अक्सर यही ब…