sunnymca.wordpress.com
गूंज रही है अब भी वो आवाज़..
गूंज रही है अब भी वो आवाज़, जिसने कल मुझे पुकारा था, दो बातें अपनों सी थी, हमने जब प्यार जताया था। मीठी मिश्री सी होगी उनकी आवाज़, कभी बिन सुने ही सबको बताया था, हाँ बिलकुल वो मेरे ख्वाबों सी है, ह…