smsmine.wordpress.com
कभी नोटो के लिए मर गए
कभी नोटो के लिए मर गए, कभी वोटो के लिए मर गए, कभी जात-पात के नाम पर मर गए, कभी आपस मे 2 गज जमीनो के लिए मर गए, होते अगर आज वीर भगत सिहँ तो कहते.. यार सुखदेव हम भी किन कमीनो के लिए मर गए” !!!…