sahitya.acharyaprashant.org
अपने रास्ते की बाधा तुम खुद हो
जबकी जीवन का नियम यह है कि जब जो होना होता है, होता है तुम्हारे करने की ज़रुरत होती नहीं। लेकिन तुम्हारा सारा ज़ोर इस पर है कि मैं करूंगा और तुम्हारा यह भाव कि ‘मैं करूंगा’ सारे होने को र…