resonner.wordpress.com
~ हिचकियाँ ~
बड़े दिनों बाद हिचकियाँ आयी हैं आज, ऐसा लगा मानो किसी ने , “Miss You too” कहा हो। .. सड़क पे गोल -गप्पे खाते हुए, बारिश की पानी पर छप -छपाते हुए , इक पुरानी अधूरी कविता को पूरा करते हुए…