rekhasahay.wordpress.com
आधा चाँद
आधे चाँद का दर्द वही समझ सकता है, जो आधा अधूरा होने का एहसास जानता है. चाँद जानता है जल्दी ही वह पूरा हो कर आएगा . भले हीं एक दिन के लिये हीं…… वह पूरा होने की जद्दो -जहद में दस्तूर निभ…