rekhasahay.wordpress.com
पहेली
भविष्य टुकड़े टुकड़े बँटीं हुईं, एक पहेली है. जोड़ कर अनुमान लगाने की कोशिश में ज़िंदगी और बड़ीं पहेली बना जाती है. भविष्य बनाने की कोशिश के साथ , क्यों नहीं वर्तमान में जिया जाए ?…