rekhasahay.wordpress.com
लहरें
सागर की लहरें उमंग से किनारे को आग़ोश में लेने और चूमने बार बार आतीं. हसरत से ….. दामन में सीप शंख ला उपहार छोड़ जातीं . किनारा ने डूबती दर्द भरी आवाज़ में सागर से कहा – तुम्हें मैं नही…