rekhasahay.com
एक ख़्याल
एक ख़्याल अक्सर आता है. एक रहस्य जानने की हसरत होती है. क्या सोंच कर ईश्वर ने मुझे इस आकार में ढाला होगा? कुछ तो उसकी कामना होगी जो यह रूह दे डाला होगा. क्यों इतने जतन से साँचे में मूर्ति सा गढ़ा ह…