randomwithlife.com
हम आज की आवाज हैं
हम वो हैं जो कभी पदमावती के नाम पे, स्कूली बच्जों के बसों पर पत्थर मारते हैं। और हम वो भी हैं जो सौ रूपये कि खातिर, भ्रष्ट नेताओं के संग मुल्क बेचते हैं। कोई हमे वामपंथी कहता तो कोई कहे फासीवाद है,…