madhureo.com
Yaaden/यादें - Madhusudan Singh
मिटकर भी फूल खुशबू छोड़ जाते हैं, हवाओं में अपनी रंगत घोल जाते हैं, आते हैं फूल कई ऐसे ही जीवन में, जाने से पहले खुशबू छोड़ जाते हैं।। उनकी ये खुशबू सदा संग रहती है, दिल की तिजोरी में बंद रहती है, आँधी,तूफान उसे मिटा नही पाती, आँसुओं की धार भी बहा नही पाती, …