madhureo.com
Smart City - Madhusudan Singh
Image Credit : Google झोपड़ी रहे ना रहे स्मार्ट सिटी बनाएंगे, पटरी पुरानी है तो क्या हुआ, बुलेट ट्रेन दौड़ाएंगे, दुख है कुछ गाडियां उलट रही, दुख है कुछ ज़िंदगियाँ बिखर रही, मगर चिंता की कोई बात नहीं, खजाने में कोई कमी नहीं, मुवावजे का हम एलान कर देंगे, सैनिक हैं हमारे पास, बाकी काम …