madhureo.com
Alwida-2017 - Madhusudan Singh
Image credit: Google ऐ साल तुझे क्या मैं बोलूं, दिन निश्चित कर तुम आये, खुश हूँ कितना मैं ही जानू, कितना तुमको अपनाये, खुश हूँ कितना मैं ही जानू, कितना तुमको अपनाये।। हर पल हम तेरे साथ रहे, फिर भी हो तुम क्यों रोते, कितनों ने हमको छोड़ दिया, है कौन यहाँ पर रोते, हैं …