madhureo.com
Maa - Madhusudan Singh
ऐ माँ बोल बता मुझको मै,तेरा क्या सम्मान करूँ, ममता,त्याग,तपस्या की माँ,कैसे मैं गुणगान करूँ। बचपन से तुमसे ही सीखा, सीख मैं कितना बतलाऊँ, कितना प्यार किया तुम मुझको, कैसे उसको दुहराऊं, मुझे खिलाती फिर तू खाती, मेरे हक में तू लड़ जाती, दर्द कभी हो मुझको माँ फिर, रात तुम्हारी दिन बन जाती, सच …