madhureo.com
Kutte mere Gaon ke - Madhusudan Singh
Image credit: Google भों-भों कर सब कुत्ते दौड़े, सन्नाटे बीच मुझको घेरे, वापस चार साल के बाद था आया गाँव में, आकर लिपट गए सब कुत्ते मेरे पाँव में।२ धूल से मेरे पाँव सने थे, छाती पर कुछ पाँव पड़े थे, सुनसान गलियाँ थी, कुत्तों के संग मेरे पाँव खड़े थे, पटक,पटक कर पूंछ दिखाते, …